कृष्ण पर नज़्में

कृष्ण का काव्यात्मक रूप

समय-समय पर कई कवियों को देखने का सौभाग्य प्राप्त हुआ | इनमें सूरदास, मीराबाई और विद्यापति अहम् नामों में हैं | शायरी की इस परम्परा को उर्दू शायरों ने भी बख़ूबी निभाया है | मिसाल के तौर पर यहाँ चुनिन्दा उर्दू नज़्में दी जा रही हैं |

507
Favorite

श्रेणीबद्ध करें

कृष्ण

मथुरा कि नगर है आशिक़ी का

हसरत मोहानी

भगवान 'कृष्ण' की तस्वीर देख कर

मुझे तेरे तसव्वुर से ख़ुशी महसूस होती है

कँवल एम ए

श्री-कृष्ण

हैं जसोधा के लिए ज़ीनत-ए-आग़ोश कहीं

चंद्रभान कैफ़ी देहल्वी

कृष्ण-कनहैया

जो सुन लेता है गोश-ए-दिल से अफ़्साना कनहैया का

जूलियस नहीफ़ देहलवी