निदा फ़ाज़ली की 10 मशहूर नज़्में

महत्वपूर्ण आधुनिक शायर और फ़िल्म गीतकार। अपनी ग़ज़ल ' कभी किसी को मुकम्मल जहाँ नहीं मिलता ' के लिए प्रसिध्द

1.57K
Favorite

श्रेणीबद्ध करें

वालिद की वफ़ात पर

तुम्हारी क़ब्र पर

निदा फ़ाज़ली

आदमी की तलाश

अभी मरा नहीं ज़िंदा है आदमी शायद

निदा फ़ाज़ली

लफ़्ज़ों का पुल

मस्जिद का गुम्बद सूना है

निदा फ़ाज़ली

मोहब्बत

पहले वो रंग थी

निदा फ़ाज़ली

वक़्त से पहले

यूँ तो हर रिश्ते का अंजाम यही होता है

निदा फ़ाज़ली

सच्चाई

वो किसी एक मर्द के साथ

निदा फ़ाज़ली

बूढ़ा

हर माँ अपनी कोख से

निदा फ़ाज़ली