भ्रष्टाचार

एक हँसती हुई बदली देखी

एक जलता हुआ घर याद आया

बाक़ी सिद्दीक़ी

संबंधित विषय