शेर

विषयानुसार हज़ारों लोकप्रिय शेर

चित्र शायरी

शायरी की सैकड़ों खूबसूरत तस्वीरें शेयर कीजिए

समस्त
वो कोई दोस्त था अच्छे दिनों का-नासिर काज़मी

नासिर काज़मी

यार सब जम्अ हुए रात की ख़ामोशी में-अहमद मुश्ताक़

अहमद मुश्ताक़

सच तो कह दूँ मगर इस दौर के इंसानों को-सलीम अहमद

सलीम अहमद

दोस्ती किस से न थी किस से मुझे प्यार न था-मीर हसन

मीर हसन

गुमशुदगी ही अस्ल में यारो राह-नुमाई करती है-हफ़ीज़ बनारसी

हफ़ीज़ बनारसी

इस हाल में कब तक यूँही घुट घुट के जियूँगा-बर्क़ी आज़मी

बर्क़ी आज़मी

जिस से मिल बैठे लगी वो शक्ल पहचानी हुई-आशुफ़्ता चंगेज़ी

आशुफ़्ता चंगेज़ी

कुछ दिन से ज़िंदगी मुझे पहचानती नहीं-अंजुम रहबर

अंजुम रहबर

वैसे ही ख़याल आ गया है-अदा जाफ़री

अदा जाफ़री

हमें भी नींद आ जाएगी हम भी सो ही जाएँगे-क़तील शिफ़ाई

क़तील शिफ़ाई

क़ुर्बतें होते हुए भी फ़ासलों में क़ैद हैं-सलीम कौसर

सलीम कौसर

अजब अंदाज़ के शाम-ओ-सहर हैं-असद भोपाली

असद भोपाली

हम तो हैं परदेस में देस में निकला होगा चाँद-राही मासूम रज़ा

राही मासूम रज़ा

क़रीब भी तो नहीं हो कि आ के सो जाओ-रउफ़ रज़ा

रउफ़ रज़ा