शेर

विषयानुसार हज़ारों लोकप्रिय शेर


  • उम्र कैसे कटेगी 'सैफ़' यहाँ
    रात कटती नज़र नहीं आती

    सैफ़ुद्दीन सैफ़

  • इलाही ख़ैर मेरे कारवाँ की
    जिसे देखो अमीर-ए-कारवाँ है

    अज्ञात

  • ये उम्र भर का सफ़र है इसी सहारे पर
    कि वो खड़ा है अभी दूसरे किनारे पर

    साबिर वसीम

  • लजा कर शर्म खा कर मुस्कुरा कर
    दिया बोसा मगर मुँह को बना कर

    अज्ञात

  • तर्क-ए-मय ही समझ इसे नासेह
    इतनी पी है कि पी नहीं जाती

    शकील बदायुनी

  • माँग कर तुझ से ख़ुशी लूँ मुझे मंज़ूर नहीं
    किस का माँगी हुई दौलत से भला होता है

    अज्ञात

  • मुझे याद करने से ये मुद्दआ था
    निकल जाए दम हिचकियाँ आते आते

    दाग़ देहलवी

  • गुलों में रंग भरे बाद-ए-नौ-बहार चले
    चले भी आओ कि गुलशन का कारोबार चले

    फ़ैज़ अहमद फ़ैज़

  • तू मुझे अपना बना या न बना तेरी ख़ुशी
    तू ज़माने में मिरे नाम से बदनाम तो है

    साबिर जलालाबादी

  • मैं अपने साथ रहता हूँ हमेशा
    अकेला हूँ मगर तन्हा नहीं हूँ

    अज्ञात

  • मौत उस की है करे जिस का ज़माना अफ़्सोस
    यूँ तो दुनिया में सभी आए हैं मरने के लिए

    अज्ञात

  • इक वही शख़्स मुझ को याद रहा
    जिस को समझा था भूल जाऊँगा

    सलमान अख़्तर

  • बाग़-ए-बहिश्त से मुझे हुक्म-ए-सफ़र दिया था क्यूँ
    कार-ए-जहाँ दराज़ है अब मिरा इंतिज़ार कर

    अल्लामा इक़बाल

  • कुछ और भी हैं काम हमें ऐ ग़म-ए-जानाँ
    कब तक कोई उलझी हुई ज़ुल्फ़ों को सँवारे

    हबीब जालिब

  • हक़ ने तुझ को इक ज़बाँ दी और दिए हैं कान दो
    इस के ये मअ'नी कहे इक और सुने इंसान दो

    शेख़ इब्राहीम ज़ौक़

चित्रित शायरी

शायरी की सैकड़ों खूबसूरत तस्वीरें शेयर कीजिए

सम्पूर्ण

टैग