शेर

विषयानुसार हज़ारों लोकप्रिय शेर

चित्र शायरी

शायरी की सैकड़ों खूबसूरत तस्वीरें शेयर कीजिए

समस्त
रोने से और इश्क़ में बे-बाक हो गए-मिर्ज़ा ग़ालिब

मिर्ज़ा ग़ालिब

हर तरफ़ हर जगह बे-शुमार आदमी-निदा फ़ाज़ली

निदा फ़ाज़ली

यहाँ तो शहर से दीवार-ओ-दर ही ग़ाएब हैं-आयाज़ रसूल नाज़की

आयाज़ रसूल नाज़की

बोलता हूँ तो मिरे होंट झुलस जाते हैं-अब्बास ताबिश

अब्बास ताबिश

लगता है इतना वक़्त मिरे डूबने में क्यूँ-ज़फ़र इक़बाल

ज़फ़र इक़बाल

मायूस हो गई है दुआ भी जबीन भी-अब्दुल हमीद अदम

अब्दुल हमीद अदम

जितनी बुरी कही जाती है उतनी बुरी नहीं है दुनिया-निदा फ़ाज़ली

निदा फ़ाज़ली

नानक-अल्लामा इक़बाल

अल्लामा इक़बाल

यूँ ज़िंदगी गुज़ार रहा हूँ तिरे बग़ैर-जिगर मुरादाबादी

जिगर मुरादाबादी

सभी कुछ हो चुका उन का हमारा क्या रहा 'हसरत'-हसरत मोहानी

हसरत मोहानी

ढूँडता फिरता हूँ मैं 'इक़बाल' अपने आप को-अल्लामा इक़बाल

अल्लामा इक़बाल

हाथ काँटों से कर लिए ज़ख़्मी-अदा जाफ़री

अदा जाफ़री

इन शोख़ हसीनों की अदा और ही कुछ है-अबुल कलाम आज़ाद

अबुल कलाम आज़ाद

बात साक़ी की न टाली जाएगी-जलील मानिकपूरी

जलील मानिकपूरी