फ़हमीदा रियाज़ 10 मशहूर नज़्में

पाकिस्तानी शायरा। अपने स्त्री-वादी और संस्था-विरोधी विचारों के लिए प्रसिद्ध

1K
Favorite

श्रेणीबद्ध करें

ज़बानों का बोसा

ज़बानों के रस में ये कैसी महक है

फ़हमीदा रियाज़

पत्थर की ज़बान

इसी अकेले पहाड़ पर तू मुझे मिला था

फ़हमीदा रियाज़

एक औरत की हँसी

पथरीले कोहसार के गाते चश्मों में

फ़हमीदा रियाज़

एक लड़की से

संग-दिल रिवाजों की

फ़हमीदा रियाज़

चादर और चार-दीवारी

हुज़ूर मैं इस सियाह चादर का क्या करूँगी

फ़हमीदा रियाज़

इंक़िलाबी औरत

रणभूमी में लड़ते लड़ते मैं ने कितने साल

फ़हमीदा रियाज़

अबद

ये कैसी लज़्ज़त से जिस्म शल हो रहा है मेरा

फ़हमीदा रियाज़

मुक़ाबला-ए-हुस्न

कूल्हों में भँवर जो हैं तो क्या है

फ़हमीदा रियाज़