aaj ik aur baras biit gayā us ke baġhair

jis ke hote hue hote the zamāne mere

रद करें डाउनलोड शेर
Rajinder Singh Bedi's Photo'

राजिंदर सिंह बेदी

1915 - 1984 | मुंबई, भारत

उर्दू के महत्वपूर्ण अफ़साना निगारों में शामिल, मंटो के समकालीन, भारतीय समाज और लोक कथाओं से सम्बंधित कहानियां बुनने के लिए मशहूर. नॉवेल, ड्रामेऔर फिल्मों के लिए संवाद व स्क्रिप्ट लिखे.

उर्दू के महत्वपूर्ण अफ़साना निगारों में शामिल, मंटो के समकालीन, भारतीय समाज और लोक कथाओं से सम्बंधित कहानियां बुनने के लिए मशहूर. नॉवेल, ड्रामेऔर फिल्मों के लिए संवाद व स्क्रिप्ट लिखे.

राजिंदर सिंह बेदी की ई-पुस्तक

राजिंदर सिंह बेदी की पुस्तकें

39

Apne Dukh Mujhe De Do

1997

Dana-o-Daam

1980

Ek Chadar Maili Si

1964

Garam Coat

Hath Hamare Qalam Huye

1974

Kokh Jali

1949

Mehmaan

अपने दुख मुझे दे दो

2011

कोख जली

1970

हाथ हमारे क़लम हुए

1988

राजिंदर सिंह बेदी पर पुस्तकें

21

Bedi

Ek Jaiza

1985

Parwaz-e-Adab

Shumara Number-002-007

1981

Rajender Singh Bedi Ki Afsana Nigari

Apne Dukh Mujhe De Do, Ki Roshni Mein

2001

Rajendra Singh Bedi

1989

Rajinder Singh Bedi

Ek Samaji-o-Tahzibi Mutala

2011

Rajinder Singh Bedi

Shakhsiyat Aur Fan

1980

Rajinder Singh Bedi

Shakhsiyat Aur Fan

1999

Urdu Duniya,Delhi

Bedi Aur Husain: Shumara Number-009

2015

राजिंदर सिंह बेदी

1992

राजिन्द्र सिंह बेदी की तख़लिक़ात में निसवानी किरदारों का तज्ज़ियाती मुताला

2014

Recitation

Jashn-e-Rekhta | 8-9-10 December 2023 - Major Dhyan Chand National Stadium, Near India Gate - New Delhi

GET YOUR PASS
बोलिए