शेर

विषयानुसार हज़ारों लोकप्रिय शेर


  • एक आँसू ने डुबोया मुझ को उन की बज़्म में
    बूँद भर पानी से सारी आबरू पानी हुई

    शेख़ इब्राहीम ज़ौक़

  • फ़रिश्ते से बढ़ कर है इंसान बनना
    मगर इस में लगती है मेहनत ज़ियादा

    अल्ताफ़ हुसैन हाली

  • अगर न ज़ोहरा-जबीनों के दरमियाँ गुज़रे
    तो फिर ये कैसे कटे ज़िंदगी कहाँ गुज़रे

    जिगर मुरादाबादी

  • 'मीर' साहब तुम फ़रिश्ता हो तो हो
    आदमी होना तो मुश्किल है मियाँ

    मीर तक़ी मीर

  • आप के पाँव के नीचे दिल है
    इक ज़रा आप को ज़हमत होगी

    सिराज लखनवी

  • ये तो नहीं कि तुम सा जहाँ में हसीं नहीं
    इस दिल को क्या करूँ ये बहलता कहीं नहीं

    दाग़ देहलवी

  • दिल-जलों से दिल-लगी अच्छी नहीं
    रोने वालों से हँसी अच्छी नहीं

    रियाज़ ख़ैराबादी

  • 'ग़ालिब' छुटी शराब पर अब भी कभी कभी
    पीता हूँ रोज़-ए-अब्र ओ शब-ए-माहताब में

    मिर्ज़ा ग़ालिब

  • कोशिश भी कर उमीद भी रख रास्ता भी चुन
    फिर इस के ब'अद थोड़ा मुक़द्दर तलाश कर

    निदा फ़ाज़ली

  • मक़्बूल हों न हों ये मुक़द्दर की बात है
    सज्दे किसी के दर पे किए जा रहा हूँ मैं

    जोश मलसियानी

  • उन के देखे से जो आ जाती है मुँह पर रौनक़
    वो समझते हैं कि बीमार का हाल अच्छा है

    मिर्ज़ा ग़ालिब

  • सौ सौ उमीदें बंधती है इक इक निगाह पर
    मुझ को न ऐसे प्यार से देखा करे कोई

    अल्लामा इक़बाल

  • सितारों से आगे जहाँ और भी हैं
    अभी इश्क़ के इम्तिहाँ और भी हैं

    अल्लामा इक़बाल

  • मैं लौटने के इरादे से जा रहा हूँ मगर
    सफ़र सफ़र है मिरा इंतिज़ार मत करना

    साहिल सहरी नैनीताली

  • हक़ ने तुझ को इक ज़बाँ दी और दिए हैं कान दो
    इस के ये मअ'नी कहे इक और सुने इंसान दो

    शेख़ इब्राहीम ज़ौक़

चित्रित शायरी

शायरी की सैकड़ों खूबसूरत तस्वीरें शेयर कीजिए

सम्पूर्ण

टैग