ADVERTISEMENT

आम पर मसनवी

दर-सिफ़त-ए-अम्बा

मिर्ज़ा ग़ालिब
ADVERTISEMENT