आज के चुनिन्दा 5 शेर

रास्ता सोचते रहने से किधर बनता है

सर में सौदा हो तो दीवार में दर बनता है

जलील ’आली’

वो चाँद है तो अक्स भी पानी में आएगा

किरदार ख़ुद उभर के कहानी में आएगा

इक़बाल साजिद

मोहब्बत रंग दे जाती है जब दिल दिल से मिलता है

मगर मुश्किल तो ये है दिल बड़ी मुश्किल से मिलता है

जलील मानिकपूरी

ज़रा रूठ जाने पे इतनी ख़ुशामद

'क़मर' तुम बिगाड़ोगे आदत किसी की

क़मर जलालवी
  • शेयर कीजिए

क़रार दिल को सदा जिस के नाम से आया

वो आया भी तो किसी और काम से आया

जमाल एहसानी
आज का शब्द

इम्तियाज़

  • imtiyaaz
  • امتیاز

शब्दार्थ

discrimination/ distinction

मिरी निगाह में वो रिंद ही नहीं साक़ी

जो होशियारी मस्ती में इम्तियाज़ करे

शब्दकोश
आर्काइव

स्मृति

पुण्य तिथि

भारत के सबसे प्रमुख प्रगतिशील गजल-शायर/प्रमुख फि़ल्म गीतकार/दादा साहब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित

पसंदीदा विडियो
This video is playing from YouTube

गुलज़ार

Urdu poets and poetry: Jashn-e-Rekhta 2017

इस विडियो को शेयर कीजिए

ई-पुस्तकें

Urdu Masnaviyon Mein Jinsi Talazzuz

महबूब अाला क़ुरेशी 

1993 शायरी

Gard-e-Karwan

कन्हैया लाल कपूर 

1987 हास्य-व्यंग

Shumara Number-002

सय्यद अलताफ़ अली बरेलवी 

1942 Musannif Jild 1 Number 2 Jun 1942

पृथी राज रासा

महमूद ख़ान शीरानी 

1943 महा-काव्य

Mah-e-Tamam

परवीन शाकिर 

1995 महाकाव्य

अन्य ई-पुस्तकें

नया क्या है

हम से जुड़िये

न्यूज़लेटर

* रेख़्ता आपके ई-मेल का प्रयोग नियमित अपडेट के अलावा किसी और उद्देश्य के लिए नहीं करेगा

Added to your favorites

Removed from your favorites