पसंदीदा विडियो

कुमार विश्वास

Abhi abhi ek geet racha hai tumko jeete jeete

इस विडियो को शेयर कीजिए

आज के टॉप 5

वो ज़हर देता तो सब की निगह में जाता

सो ये किया कि मुझे वक़्त पे दवाएँ दीं

अख़्तर नज़्मी
  • शेयर कीजिए

अच्छी सूरत भी क्या बुरी शय है

जिस ने डाली बुरी नज़र डाली

आलमगीर कैफ़ टोंकी

किसी के तुम हो किसी का ख़ुदा है दुनिया में

मिरे नसीब में तुम भी नहीं ख़ुदा भी नहीं

अख़्तर सईद ख़ान

'हफ़ीज़' अपनी बोली मोहब्बत की बोली

उर्दू हिन्दी हिन्दोस्तानी

हफ़ीज़ जालंधरी

ये मोहब्बत का फ़साना भी बदल जाएगा

वक़्त के साथ ज़माना भी बदल जाएगा

अज़हर लखनवी
आर्काइव
आज का शब्द

हरीफ़

  • hariif
  • حریف

शब्दार्थ

rival/ opponent

अजब हरीफ़ था मेरे ही साथ डूब गया

मिरे सफ़ीने को ग़र्क़ाब देखने के लिए

शब्द शेयर कीजिए

आर्काइव

आज की प्रस्तुति

प्रसिद्ध फ़िल्म गीतकार जावेद अख़्तर के दादा

किसी की आँख का नूर हूँ किसी के दिल का क़रार हूँ

जो किसी के काम सके मैं वो एक मुश्त-ए-ग़ुबार हूँ

I'm not the light of any eye, for me none has a care

no use to anyone am I, dust merely scattered there

I'm not the light of any eye, for me none has a care

no use to anyone am I, dust merely scattered there

पूर्ण ग़ज़ल देखें

मुज़्तर ख़ैराबादी के बारे में शेयर कीजिए

ई-पुस्तकालय

उर्दू साहित्य का सबसे बड़ा ऑनलाइन संग्रह

इंतिख़ाब-ए-सौदा

मोहम्मद रफ़ी सौदा 

2004 संकलन

शुमारा नम्बर-004

शहरयार 

1993 फ़िक्र-ओ-नज़र

इलियट के मज़ामीन

टी-एस-इलियट 

मज़ामीन / लेख

लिहाफ़

इस्मत चुग़ताई 

1992 पाठ्य पुस्तक

आह क्यू की सच्ची कहानी

लुहसू 

1953 कहानी

ई-पुस्तकालय

नया क्या है

350+

ग़ज़लें

अभी पढ़िए

150+

नज़्म

अभी पढ़िए

3550+

ई-पुस्तक

अभी पढ़िए

हम से जुड़िये

न्यूज़लेटर

* रेख़्ता आपके ई-मेल का प्रयोग नियमित अपडेट के अलावा किसी और उद्देश्य के लिए नहीं करेगा

Rekhta

Favroite added successfully

Favroite removed successfully