शेर

विषयानुसार हज़ारों लोकप्रिय शेर

चित्र शायरी

शायरी की सैकड़ों खूबसूरत तस्वीरें शेयर कीजिए

समस्त
रोज़ अच्छे नहीं लगते आँसू-मोहम्मद अल्वी

मोहम्मद अल्वी

कुछ करो फ़िक्र मुझ दीवाने की-मीर तक़ी मीर

मीर तक़ी मीर

कभी कभी तो किसी अजनबी के मिलने पर-मंज़ूर हाशमी

मंज़ूर हाशमी

इक बार उस ने मुझ को देखा था मुस्कुरा कर-मेला राम वफ़ा

मेला राम वफ़ा

लोग कहते हैं कि तू अब भी ख़फ़ा है मुझ से-जाँ निसार अख़्तर

जाँ निसार अख़्तर

अपने हर हर लफ़्ज़ का ख़ुद आईना हो जाऊँगा-वसीम बरेलवी

वसीम बरेलवी

वफ़ाओं के बदले जफ़ा कर रहे हैं-हफ़ीज़ जालंधरी

हफ़ीज़ जालंधरी

ख़ामोशी का हासिल भी इक लम्बी सी ख़ामोशी थी-गुलज़ार

गुलज़ार

कहाँ है मेरा हिन्दोस्तान...-अजमल सुल्तानपूरी

अजमल सुल्तानपूरी

कहा था तुम से कि ये रास्ता भी ठीक नहीं-आशुफ़्ता चंगेज़ी

आशुफ़्ता चंगेज़ी

यार भी राह की दीवार समझते हैं मुझे-शाहिद ज़की

शाहिद ज़की

वफ़ा करेंगे निबाहेंगे बात मानेंगे-दाग़ देहलवी

दाग़ देहलवी

यूँ तो कई किताबें पढ़ीं ज़ेहन में मगर-बेकल उत्साही

बेकल उत्साही

ये आरज़ू थी कि हम उस के साथ साथ चलें-नोशी गिलानी

नोशी गिलानी

Added to your favorites

Removed from your favorites