दाइम पड़ा हुआ तिरे दर पर नहीं हूँ मैं

मिर्ज़ा ग़ालिब

दाइम पड़ा हुआ तिरे दर पर नहीं हूँ मैं

मिर्ज़ा ग़ालिब

MORE BY मिर्ज़ा ग़ालिब

    दाइम पड़ा हुआ तिरे दर पर नहीं हूँ मैं

    ख़ाक ऐसी ज़िंदगी पे कि पत्थर नहीं हूँ मैं

    I do not lie embedded, ensconced upon your door

    I am not merely a stone, such life I do abhor

    क्यूँ गर्दिश-ए-मुदाम से घबरा जाए दिल

    इंसान हूँ पियाला साग़र नहीं हूँ मैं

    why shouldn't life's revolutions agitate my heart?

    I'm human, not a chalice to be passed around the floor.

    या-रब ज़माना मुझ को मिटाता है किस लिए

    लौह-ए-जहाँ पे हर्फ़-ए-मुकर्रर नहीं हूँ मैं

    Lord what reason that this world seeks to erase me so

    I'm not a superfluous word that's been written before

    हद चाहिए सज़ा में उक़ूबत के वास्ते

    आख़िर गुनाहगार हूँ काफ़र नहीं हूँ मैं

    Viciousness, in punishment, needs to be restrained

    after all it's sin, not heresy I answer for

    किस वास्ते अज़ीज़ नहीं जानते मुझे

    लअ'ल ज़मुर्रद ज़र गौहर नहीं हूँ मैं

    Neither rubies, gems, nor gold nor pearls, I am therefore

    is it for this reason that you choose to thus ignore

    रखते हो तुम क़दम मिरी आँखों से क्यूँ दरेग़

    रुत्बे में महर-ओ-माह से कम-तर नहीं हूँ मैं

    why do you have to keep your feet hidden from my eyes?

    less in stature than the sun and moon I am not for sure

    करते हो मुझ को मनअ-ए-क़दम-बोस किस लिए

    क्या आसमान के भी बराबर नहीं हूँ मैं

    what reason that you now refuse to let me kiss your feet

    am I not equal even to the heavens anymore

    'ग़ालिब' वज़ीफ़ा-ख़्वार हो दो शाह को दुआ

    वो दिन गए कि कहते थे नौकर नहीं हूँ मैं

    Ghalib you should praise the king, dependent that you are

    You used to say "I do not serve", those were the days of yore

    वीडियो
    This video is playing from YouTube

    Videos
    This video is playing from YouTube

    ज़ुल्फ़िक़ार अली बुख़ारी

    ज़ुल्फ़िक़ार अली बुख़ारी

    हरिहरण

    हरिहरण

    इक़बाल बानो

    इक़बाल बानो

    असद अमानत अली

    असद अमानत अली

    बेगम अख़्तर

    बेगम अख़्तर

    इक़बाल बानो

    इक़बाल बानो

    मेहदी हसन

    मेहदी हसन

    RECITATIONS

    नोमान शौक़

    नोमान शौक़

    नोमान शौक़

    दाइम पड़ा हुआ तिरे दर पर नहीं हूँ मैं नोमान शौक़

    स्रोत:

    • पुस्तक : Deewan-e-Ghalib Jadeed (Al-Maroof Ba Nuskha-e-Hameedia) (पृष्ठ 283)

    Additional information available

    Click on the INTERESTING button to view additional information associated with this sher.

    OKAY

    About this sher

    Lorem ipsum dolor sit amet, consectetur adipiscing elit. Morbi volutpat porttitor tortor, varius dignissim.

    Close

    rare Unpublished content

    This ghazal contains ashaar not published in the public domain. These are marked by a red line on the left.

    OKAY