शायरों की सूची

सैंकड़ों शायरों का चुनिंदा कलाम

पाकिस्तानी शायर , अपनी ग़ज़ल ' कल चौदहवीं की रात ' थी , के लिए प्रसिद्ध

1927 -1978 कराची

उर्दू के सबसे बड़े जासूसी उपन्यासकार जो पहले ' असरार नारवी ' के नाम से शायरी करते थे।

1928 -1980 कराची

फिल्म 'कहो ना प्यार है' के गीतों के लिए मशहूर।

पाकिस्तान में अग्रणी शायरों में शामिल, अपनी सांस्कृतिक रूमानियत के लिए मशहूर।

पाकिस्तानी आधुनिक उर्दू आलोचना के संस्थापक

समलैंगिकता के विषय पर अपनी बेबाक अभिव्यक्ति के लिए प्रसिद्ध

शायर,आलोचक,पत्रकार और साहित्यिक पत्रिका "तमसील-ए-नौ" के ऑनरेरी संपादक

लखनऊ के मुम्ताज़ और नई राह बनाने वाले शायर/मिर्ज़ा ग़ालिब के समकालीन

1772 -1838 लखनऊ

उर्दू आलोचना मे कृतिमान स्थापित करने वाली किताब “काशिफ़-अल-हक़ाएक़” के लिए प्रसिद्ध

1849 -1933 पटना