नई नज़्में

नज़्मों का विशाल संग्रह - उर्दू शायरी का एक स्वरुप


नज़्म, उर्दू में एक विधा के रूप में, उन्नीसवीं सदी के आख़िरी दशकों के दौरान पैदा हुई और धीरे धीरे पूरी तरह स्थापित हो गई। नज़्म बहर और क़ाफ़िए में भी होती है और इसके बिना भी। अब नसरी नज़्म (गद्द-कविता) भी उर्दू में स्थापित हो गई है।


नज़्म
2 क़हक़हा
अगर ख़ुदा मिल गया मुझ को
अजब पानी है
अपना साया
अपने अंदर ज़रा झाँक मेरे वतन
अब डर नहीं लगता
अहिंसा की पहली सुनहरी किरन
आईने के सामने
आख़िरी कोस
आख़िरी दिन से पहले
आज फिर दर्द उठा
आना है तो आ राह में कुछ फेर नहीं है
आने वाली नस्ल का तोहफ़ा
आलमों को बन बास देने वाले
इंतिज़ार के बाद
इंसाफ़ का तराज़ू जो हाथ में उठाए
इक अधूरी दास्तान
इक और भी है मुंसिफ़
इन्फ़िरादियत परस्त
इब्न-ए-क़ाबील की दुआ
इब्न-ए-ज़ियाद का फ़रमान
इरफ़ान
इलाही रहम कर मुझ पर
इल्म-ए-सीना
ईद
उदास चाँद
उमीद
एंटीना के नेज़े
एक इत्तिफ़ाक़ी मौत की रूदाद
एक मंज़र
एक रात सफ़ेद गुलाबों वाले तालाब के पास
एक शाम
एड्स
एहसास-ए-कामराँ
एहसास-ए-जुर्म
ऐ नई नस्ल
और फिर चाँद निकलता है
औरतें नहीं जानतीं
कब से महव-ए-सफ़र हो
कबाड़-ख़ाना
कभी कभी
कमज़ोरी
कल ही की बात नहीं होती
क़लम
कल्पना
क़स्बाती लड़कों का गीत
काँच की गुड़िया
क़ातिल
किरनों का संदेसा
कुछ बातें
क़ुमक़ुमा 1
कैसे टहलता है चाँद
कोई दिल की चाहत से मजबूर है
कोई बात करो
कोह-ए-निदा से आगे
कौन है मुजरिम शहर-ए-इल्म की ताराजी का
ख़बर वहशत-असर थी
ख़लिश
ख़ाना-आबादी
ख़ाना-ब-दोशों का गीत
ख़ामोशी
ख़ुदा-ए-बर्तर तिरी ज़मीं पर ज़मीं की ख़ातिर ये जंग क्यूँ है
ख़्वाब
ख़्वाब देखना
गाँधी हो या ग़ालिब हो
गुज़ारिश
ग़ैर-मुतवक़्क़ा मुलाक़ात
चाँद-रात
चुभते ख़्वाब
जंगल हम और काले बादल
जज़्बा-ए-उश्शाक़ काम आने को है
ज़बाँ पर ज़ाइक़ा दो पानियों का है
जल्द-बाज़ी
जल्वा-ए-सहर
जवाहर-लाल नेहरू
जश्न-ए-ईद
जागती आँखों का ख़्वाब
जादू का खेल
जाने क्यूँ ऐसा हूँ मैं
ज़िंदगी या तवाइफ़
ज़िंदा आदमी से कलाम
ज़ियादा पास मत आना
जिस्म का अधूरापन
जैसे मधुबन की बाला
ज़ॉम्बी
तख़ातुब
तरदीद
तरह-ए-नौ
तलाश
तल्ख़ तजरबा
तशक्कुर
तस्ख़ीर-ए-फ़ितरत के बाद
ताज-महल सी लगती हो
तिरी दुनिया के नक़्शे में
तुफ़ैली सय्यारा
तुम जो आते हो
तुम मौत और मोहब्बत की ख़ुश-बू से बनी हो
तुलू-ए-इश्तिराकियत
तू हिन्दू बनेगा न मुसलमान बनेगा
तेरी आवाज़
seek-warrow-warrow-eseek-e1 - 100 of 249 items