aaj ik aur baras biit gayā us ke baġhair

jis ke hote hue hote the zamāne mere

रद करें डाउनलोड शेर

औपनिवेशिक अधीनता पर कहानियाँ

रक़स-ए-शरर

क़ुर्रतुलऐन हैदर

टूटते तारे

क़ुर्रतुलऐन हैदर

जहाँ कारवाँ ठेहरा था

क़ुर्रतुलऐन हैदर

आसमाँ भी है सितम-ईजाद क्या

क़ुर्रतुलऐन हैदर

Jashn-e-Rekhta | 8-9-10 December 2023 - Major Dhyan Chand National Stadium, Near India Gate - New Delhi

GET YOUR PASS
बोलिए