Hamid Ali Khan's Photo'

हामिद अली ख़ान

1953 | लाहौर, पाकिस्तान

वीडियो 8

This video is playing from YouTube

वीडियो का सेक्शन
हास्य वीडियो
husn ghamze ki kashakash se chhuTa mere baad

हामिद अली ख़ान

'इंशा'-जी उठो अब कूच करो इस शहर में जी को लगाना क्या

हामिद अली ख़ान

कब वो सुनता है कहानी मेरी

हामिद अली ख़ान

ख़ल्क़ कहती है जिसे दिल तिरे दीवाने का

हामिद अली ख़ान

ग़म की बारिश ने भी तेरे नक़्श को धोया नहीं

हामिद अली ख़ान

मुझे आह-ओ-फ़ुग़ान-ए-नीम-शब का फिर पयाम आया

हामिद अली ख़ान

ये आरज़ू थी तुझे गुल के रू-ब-रू करते

हामिद अली ख़ान

होंटों पे कभी उन के मिरा नाम ही आए

हामिद अली ख़ान

"लाहौर" के और कलाकार

  • ग़ुलाम अली ग़ुलाम अली