Jaan Nisar Akhtar's Photo'

जाँ निसार अख़्तर

1914 - 1976 | मुंबई, भारत

महत्वपूर्ण प्रगतिशील शायर और फ़िल्म गीतकार। फ़िल्म गीतकार जावेद अख़्तर के पिता

ग़ज़ल 42

नज़्म 14

शेर 28

देखूँ तिरे हाथों को तो लगता है तिरे हाथ

मंदिर में फ़क़त दीप जलाने के लिए हैं

अशआ'र मिरे यूँ तो ज़माने के लिए हैं

कुछ शेर फ़क़त उन को सुनाने के लिए हैं

हर-चंद ए'तिबार में धोके भी हैं मगर

ये तो नहीं किसी पे भरोसा किया जाए

क़ितआ 30

ई-पुस्तक 29

Ghar Aangan

 

1976

Ghar Aangan

 

1971

घर अाँगन

 

1971

Hamari Qadr Karo Ai Sukhan Ke Matwalo

Jaan nisar Akhtar Par Kuch Mazamen

2011

Hindustan Hamara

Volume-002

1974

हिन्दुस्ताँ हमारा

खण्ड-002

1974

हिन्दुस्ताँ हमारा

खण्ड-001

1973

Hindustan Hamara

 

2006

Jaan Nisar Akhtar : Shakhs Aur Shair

 

1987

Jan Nisar Akhtar

Urdu Sahairon Ka Intikhabi Silsila

1957

वीडियो 24

This video is playing from YouTube

सेक्शन से वीडियो
शायर अपना कलाम पढ़ते हुए
जब लगें ज़ख़्म तो क़ातिल को दुआ दी जाए

जाँ निसार अख़्तर

ज़िंदगी ये तो नहीं तुझ को सँवारा ही न हो

जाँ निसार अख़्तर

सेक्शन से वीडियो
अन्य वीडियो
Meri Neendon Me Tum

अच्छा है उन से कोई तक़ाज़ा किया न जाए

अज्ञात

अच्छा है उन से कोई तक़ाज़ा किया न जाए

नोमान शौक़

अशआ'र मिरे यूँ तो ज़माने के लिए हैं

मुकेश

आहट सी कोई आए तो लगता है कि तुम हो

अज्ञात

आहट सी कोई आए तो लगता है कि तुम हो

अज्ञात

आहट सी कोई आए तो लगता है कि तुम हो

प्रित डिलन

आहट सी कोई आए तो लगता है कि तुम हो

सलामत अली

आहट सी कोई आए तो लगता है कि तुम हो

भारती विश्वनाथन

आहट सी कोई आए तो लगता है कि तुम हो

आबिदा परवीन

ऐ दर्द-ए-इश्क़ तुझ से मुकरने लगा हूँ मैं

अज्ञात

ज़रा सी बात पे हर रस्म तोड़ आया था

मुकेश

ज़ुल्फ़ें सीना नाफ़ कमर

अज्ञात

तू इस क़दर मुझे अपने क़रीब लगता है

अज्ञात

लोग कहते हैं कि तू अब भी ख़फ़ा है मुझ से

नोमान शौक़

सुब्ह के दर्द को रातों की जलन को भूलें

बेगम अख़्तर

हम ने काटी हैं तिरी याद में रातें अक्सर

हरिहरण

हम से भागा न करो दूर ग़ज़ालों की तरह

मुकेश

हम से भागा न करो दूर ग़ज़ालों की तरह

नेहा रिज़्वी

हम से भागा न करो दूर ग़ज़ालों की तरह

ग़ुलाम अब्बास

हर एक रूह में इक ग़म छुपा लगे है मुझे

मुकेश

आहट सी कोई आए तो लगता है कि तुम हो

भूपिंदर सिंह

संबंधित शायर

  • जावेद अख़्तर जावेद अख़्तर
  • असरार-उल-हक़ मजाज़ असरार-उल-हक़ मजाज़
  • अहमद हमदानी अहमद हमदानी
  • सरशार सिद्दीक़ी सरशार सिद्दीक़ी
  • अहमद मुश्ताक़ अहमद मुश्ताक़
  • फ़ैज़ अहमद फ़ैज़ फ़ैज़ अहमद फ़ैज़
  • सहर अंसारी सहर अंसारी
  • नसीर तुराबी नसीर तुराबी
  • अनवर शऊर अनवर शऊर
  • बशीर बद्र बशीर बद्र
  • मोहम्मद अल्वी मोहम्मद अल्वी
  • वामिक़ जौनपुरी वामिक़ जौनपुरी
  • उम्मीद फ़ाज़ली उम्मीद फ़ाज़ली
  • मीराजी मीराजी
  • महशर बदायुनी महशर बदायुनी
  • सहबा अख़्तर सहबा अख़्तर
  • जौन एलिया जौन एलिया
  • अख़्तर शीरानी अख़्तर शीरानी
  • अब्दुल हमीद अदम अब्दुल हमीद अदम
  • अनवर ख़लील अनवर ख़लील
  • अली सरदार जाफ़री अली सरदार जाफ़री
  • कैफ़ी आज़मी कैफ़ी आज़मी
  • साहिर लुधियानवी साहिर लुधियानवी
  • मुनीर नियाज़ी मुनीर नियाज़ी
  • अतहर नफ़ीस अतहर नफ़ीस
  • अहमद फ़राज़ अहमद फ़राज़
  • साक़ी फ़ारुक़ी साक़ी फ़ारुक़ी
  • शकील बदायुनी शकील बदायुनी
  • मख़मूर सईदी मख़मूर सईदी
  • फ़रीद जावेद फ़रीद जावेद
  • रज़ी अख़्तर शौक़ रज़ी अख़्तर शौक़
  • हबीब जालिब हबीब जालिब
  • निदा फ़ाज़ली निदा फ़ाज़ली
  • मजरूह सुल्तानपुरी मजरूह सुल्तानपुरी
  • आलमताब तिश्ना आलमताब तिश्ना

"मुंबई" के और शायर

  • दर्शिका वसानी दर्शिका वसानी
  • शाहिदा लतीफ़ शाहिदा लतीफ़
  • रऊफ़ सादिक़ रऊफ़ सादिक़
  • अज़ीज़ क़ैसी अज़ीज़ क़ैसी
  • गुलज़ार गुलज़ार
  • अहमद वसी अहमद वसी
  • अमीताभ बच्चन अमीताभ बच्चन
  • फ़ुज़ैल जाफ़री फ़ुज़ैल जाफ़री
  • बाक़र मेहदी बाक़र मेहदी
  • अख़्तर-उल-ईमान अख़्तर-उल-ईमान

Added to your favorites

Removed from your favorites