noImage

अकबर मेरठी

सलाम, ना’त और मन्क़बत के अहम शायर

सलाम, ना’त और मन्क़बत के अहम शायर

शेर 1

ले लो बोसा अपना वापस किस लिए तकरार की

क्या कोई जागीर हम ने छीन ली सरकार की

  • शेयर कीजिए
 

पुस्तकें 1

Bagh-e-Khayal-e-Akbar

Deewan-e-Akbar