Amir Usmani's Photo'

आमिर उस्मानी

1920 - 1975 | सहारनपुर, भारत

प्रमुख गद्यकार, व्यंग्यकार और शायर

प्रमुख गद्यकार, व्यंग्यकार और शायर

ग़ज़ल 8

नज़्म 3

 

शेर 13

आबलों का शिकवा क्या ठोकरों का ग़म कैसा

आदमी मोहब्बत में सब को भूल जाता है

बाक़ी ही क्या रहा है तुझे माँगने के बाद

बस इक दुआ में छूट गए हर दुआ से हम

इश्क़ के मराहिल में वो भी वक़्त आता है

आफ़तें बरसती हैं दिल सुकून पाता है

क़ितआ 13

ई-पुस्तक 17

Shah Nama Islam Jadeed

 

 

Shumara Number-002

1959

Shumara Number-003

1959

Shumara Number-004

1959

Shumara Number-006

1959

Shumara Number-007

1959

Shumara Number-011

1960

Shumara Number-012

1960

Shumara Number-009

1960

Shumara Number-010

1956

संबंधित शायर

  • हफ़ीज़ मेरठी हफ़ीज़ मेरठी समकालीन

"सहारनपुर" के और शायर

  • सरफ़राज़ ख़ालिद सरफ़राज़ ख़ालिद
  • पॉपुलर मेरठी पॉपुलर मेरठी
  • ज़फ़र इक़बाल ज़फ़र ज़फ़र इक़बाल ज़फ़र
  • पवन कुमार पवन कुमार
  • अरमान नज्मी अरमान नज्मी
  • फ़र्रुख़ जाफ़री फ़र्रुख़ जाफ़री
  • ऐनुद्दीन आज़िम ऐनुद्दीन आज़िम
  • रश्मि सबा रश्मि सबा
  • अकरम नक़्क़ाश अकरम नक़्क़ाश
  • फ़िगार उन्नावी फ़िगार उन्नावी