Aqeel Abbas Jafri's Photo'

अक़ील अब्बास जाफ़री

1957 | कराची, पाकिस्तान

अक़ील अब्बास जाफ़री के संपूर्ण

ग़ज़ल 4

 

शेर 2

हर इश्क़ के मंज़र में था इक हिज्र का मंज़र

इक वस्ल का मंज़र किसी मंज़र में नहीं था

बस वही अश्क मिरा हासिल-ए-गिर्या है 'अक़ील'

जो मिरे दीदा-ए-नमनाक से बाहर है अभी

 

पुस्तकें 16

Mukaalmaat-e-Abul Kalam

 

1944

Akhbar-e-Urdu,Islamabad

Shumara Number-002

2000

Akhbar-e-Urdu,Islamabad

Shumara Number-003

2000

Akhbar-e-Urdu,Islamabad

Shumara Number-001

2000

Akhbar-e-Urdu,Islamabad

Shumara Number-004

2000

Akhbar-e-Urdu,Islamabad

Shumara Number-009

2000

Akhbar-e-Urdu,Islamabad

Shumara Number-008

1999

Akhbar-e-Urdu,Islamabad

Shumara Number-010

2000

Akhbar-e-Urdu,Islamabad

Shumara Number-010,011

1999

Akhbar-e-Urdu,Islamabad

Shumara Number-012

1999

"कराची" के और शायर

  • ज़ीशान साहिल ज़ीशान साहिल
  • परवीन शाकिर परवीन शाकिर
  • आरज़ू लखनवी आरज़ू लखनवी
  • सीमाब अकबराबादी सीमाब अकबराबादी
  • महशर बदायुनी महशर बदायुनी
  • अनवर शऊर अनवर शऊर
  • दिलावर फ़िगार दिलावर फ़िगार
  • अज़रा अब्बास अज़रा अब्बास
  • पीरज़ादा क़ासीम पीरज़ादा क़ासीम
  • उबैदुल्लाह अलीम उबैदुल्लाह अलीम