Bashar Nawaz's Photo'

बशर नवाज़

1935 - 2015 | औरंगाबाद, भारत

प्रतिष्ठित प्रगतिशील शायर,आलोचक,पटकथा लेखक,और गीतकार/ फ़िल्म 'बाजार' के गीत 'करोगे याद तो हर बात याद आएगी' के लिए प्रसिद्ध

ग़ज़ल 18

नज़्म 14

शेर 10

कहते कहते कुछ बदल देता है क्यूँ बातों का रुख़

क्यूँ ख़ुद अपने-आप के भी साथ वो सच्चा नहीं

प्यार के बंधन ख़ून के रिश्ते टूट गए ख़्वाबों की तरह

जागती आँखें देख रही थीं क्या क्या कारोबार हुए

तुझ में और मुझ में तअल्लुक़ है वही

है जो रिश्ता साज़ और मिज़राब में

ई-पुस्तक 3

Ajnabi Samundar

 

1997

रायगाँ

 

1972

Raegan

 

1972

 

वीडियो 10

This video is playing from YouTube

सेक्शन से वीडियो
शायरी वीडियो
At Sarosh Education Campus, Aurangabad

बशर नवाज़

Bashar Nawaz Part-1.flv

Bashar Nawaz reflects on his craft, life and times.

बशर नवाज़

The Documentary has been made by the Navmaharashtra Yuva Abhiyan Kendra of Yeshwantrao Chavan's Trust.

बशर नवाज़

सेक्शन से वीडियो
अन्य वीडियो
Dekh Lo Aaj Hum Ko Jee Bhar ke - Hindi Film Bazaar

अज्ञात

In the ceremony of The Poetry Book Barf ki Kashti. Nwaz Bhutta Sings Bashir Ahmad Bashar's Ghazal

अज्ञात

Jab Teri Raah Se Ho Kar Guzray

ग़ुलाम अली

Karogay Yaad Toh Har Baat Yaad Aayegi - Bazaar

भूपिंदर सिंह

Karoge yaad to har baat yaad aayegi

भूपिंदर सिंह

"औरंगाबाद" के और शायर

  • शाह हुसैन नहरी शाह हुसैन नहरी
  • जे. पी. सईद जे. पी. सईद
  • याह्या ख़ान यूसुफ़ ज़ई याह्या ख़ान यूसुफ़ ज़ई
  • असलम मिर्ज़ा असलम मिर्ज़ा
  • साबिर साबिर
  • क़मर इक़बाल क़मर इक़बाल
  • अब्दुर्रहीम नश्तर अब्दुर्रहीम नश्तर
  • फ़ारूक़ शमीम फ़ारूक़ शमीम
  • मिद्हत-उल-अख़्तर मिद्हत-उल-अख़्तर
  • सिकंदर अली वज्द सिकंदर अली वज्द

Added to your favorites

Removed from your favorites