noImage

फ़िदवी लाहौरी

1729 - 1780 | लाहौर, पाकिस्तान

शेर 1

चल साथ कि हसरत दिल-ए-मरहूम से निकले

आशिक़ का जनाज़ा है ज़रा धूम से निकले

  • शेयर कीजिए
 

"लाहौर" के और शायर

  • नजमा शाहीन खोसा नजमा शाहीन खोसा
  • औरंग ज़ेब औरंग ज़ेब
  • अख़्तर सईद अख़्तर सईद
  • ज़ाहिद डार ज़ाहिद डार
  • इसहाक़ अतहर सिद्दीक़ी इसहाक़ अतहर सिद्दीक़ी
  • इंजिला हमेश इंजिला हमेश
  • फ़रताश सय्यद फ़रताश सय्यद
  • अज़हर अब्बास अज़हर अब्बास
  • रज़िया सुबहान रज़िया सुबहान
  • वक़ार ख़ान वक़ार ख़ान