Figar Unnavi's Photo'

फ़िगार उन्नावी

उन्नाव, भारत

फ़िगार उन्नावी

ग़ज़ल 16

शेर 33

दिल है मिरा रंगीनी-ए-आग़ाज़ पे माइल

नज़रों में अभी जाम है अंजाम नहीं है

  • शेयर कीजिए

फ़ज़ा का तंग होना फ़ितरत-ए-आज़ाद से पूछो

पर-ए-पर्वाज़ ही क्या जो क़फ़स को आशियाँ समझे

  • शेयर कीजिए

क्या मिला अर्ज़-ए-मुद्दआ से 'फ़िगार'

बात कहने से और बात गई

  • शेयर कीजिए

उन पे क़ुर्बान हर ख़ुशी कर दी

ज़िंदगी नज़्र-ए-ज़िंदगी कर दी

  • शेयर कीजिए

साक़ी ने निगाहों से पिला दी है ग़ज़ब की

रिंदान-ए-अज़ल देखिए कब होश में आएँ

  • शेयर कीजिए

पुस्तकें 1

Harf-o-Nawa

 

2001

 

"उन्नाव" के और शायर

  • रज़ा मौरान्वी रज़ा मौरान्वी
  • अज़ीज़ सफ़ीपुरी अज़ीज़ सफ़ीपुरी