Hafeez Hoshiarpuri's Photo'

हफ़ीज़ होशियारपुरी

1912 - 1973

अपनी ग़ज़ल ' मोहब्बत करने वाले कम होंगे ' के लिए प्रसिध्द जिसे कई गायकों ने गाया है।

अपनी ग़ज़ल ' मोहब्बत करने वाले कम होंगे ' के लिए प्रसिध्द जिसे कई गायकों ने गाया है।

हफ़ीज़ होशियारपुरी

ग़ज़ल 20

शेर 21

मोहब्बत करने वाले कम होंगे

तिरी महफ़िल में लेकिन हम होंगे

दोस्ती आम है लेकिन दोस्त

दोस्त मिलता है बड़ी मुश्किल से

  • शेयर कीजिए

तमाम उम्र तिरा इंतिज़ार हम ने किया

इस इंतिज़ार में किस किस से प्यार हम ने किया

  • शेयर कीजिए

दिल से आती है बात लब पे 'हफ़ीज़'

बात दिल में कहाँ से आती है

दुनिया में हैं काम बहुत

मुझ को इतना याद

  • शेयर कीजिए

पुस्तकें 4

Mashriqi Pakistan Ke Urdu Adeeb

 

1951

Unnees Sau Chhiyalees Ki Behtareen Nazmein

 

 

Adabi Duniya,Lahore

Shumara Number-009

1937

Afkar, Karachi

Shumara Number-036

1973

 

वीडियो 14

This video is playing from YouTube

वीडियो का सेक्शन
शायर अपना कलाम पढ़ते हुए

हफ़ीज़ होशियारपुरी

फिर से आराइश-ए-हस्ती के जो सामाँ होंगे

हफ़ीज़ होशियारपुरी

लफ़्ज़ अभी ईजाद होंगे हर ज़रूरत के लिए

हफ़ीज़ होशियारपुरी

संबंधित शायर

  • नासिर काज़मी नासिर काज़मी शिष्य