aaj ik aur baras biit gayā us ke baġhair

jis ke hote hue hote the zamāne mere

रद करें डाउनलोड शेर
Hashim Azimabadi's Photo'

हाशिम अज़ीमाबादी

1922 | पटना, भारत

हाशिम अज़ीमाबादी

ग़ज़ल 15

अशआर 3

बेगम भी हैं खड़ी हुई मैदान-ए-हश्र में

मुझ से मिरे गुनह का हिसाब ख़ुदा माँग

  • शेयर कीजिए

होंट की शीरीनियाँ कॉलेज में जब बटने लगीं

चार दिन के छोकरे करने लगे फ़रहादियाँ

  • शेयर कीजिए

गोग्गल लगा के आँख पर चलने लगे हसीन

वो लुत्फ़ अब कहाँ निगह-ए-नीम-बाज़ का

  • शेयर कीजिए
 

बच्चों की कहानी 1

 

तंज़-ओ-मज़ाह 5

 

पुस्तकें 7

 

"पटना" के और शायर

Recitation

Jashn-e-Rekhta | 8-9-10 December 2023 - Major Dhyan Chand National Stadium, Near India Gate - New Delhi

GET YOUR PASS
बोलिए