noImage

जोश लखनवी

शेर 2

अब्र में चाँद गर देखा हो

रुख़ पे ज़ुल्फ़ों को डाल कर देखो

  • शेयर कीजिए

सच कहते हैं कि नाम मोहब्बत का है बड़ा

उल्फ़त जता के दोस्त को दुश्मन बना लिया

  • शेयर कीजिए
 

ई-पुस्तक 1