noImage

नवाब मोहम्मद यार ख़ाँ अमीर

ग़ज़ल 1

 

शेर 1

शिकस्त फ़त्ह मियाँ इत्तिफ़ाक़ है लेकिन

मुक़ाबला तो दिल-ए-ना-तवाँ ने ख़ूब किया

  • शेयर कीजिए
 

संबंधित शायर

  • क़ाएम चाँदपुरी क़ाएम चाँदपुरी गुरु