Safi Lakhnavi's Photo'

सफ़ी लखनवी

1862 - 1950 | लखनऊ, भारत

क्लासिकी के आख़िरी प्रमुख शायरों में अहम नाम। व्यापक लोकप्रियता प्राप्त की

क्लासिकी के आख़िरी प्रमुख शायरों में अहम नाम। व्यापक लोकप्रियता प्राप्त की

ग़ज़ल 7

नज़्म 1

 

शेर 9

ग़ज़ल उस ने छेड़ी मुझे साज़ देना

ज़रा उम्र-ए-रफ़्ता को आवाज़ देना

  • शेयर कीजिए

मिरी नाश के सिरहाने वो खड़े ये कह रहे हैं

इसे नींद यूँ आती अगर इंतिज़ार होता

  • शेयर कीजिए

कल हम आईने में रुख़ की झुर्रियाँ देखा किए

कारवान-ए-उम्र-ए-रफ़्ता का निशाँ देखा किए

  • शेयर कीजिए

ई-पुस्तक 22

Aahang-e-Hijazi

 

 

Deewan-e-Safi

 

1953

दीवान-ए-सफ़ी

 

1953

Intikhab Kalam-e-Safi

 

1983

इंतिख़ाब-ए-कलाम-ए-सफ़ी

 

1983

Intikhab-e-Lakht-e-Jigar

 

1985

Jawahir-e-Mohra

 

1908

Lakht-e-Jigar

 

1936

Makateeb-e-Safi

 

1988

Manzumat-e-Safi

Part-001

1977

"लखनऊ" के और शायर

  • वाली आसी वाली आसी
  • गोपी नाथ अम्न गोपी नाथ अम्न
  • आदिल लखनवी आदिल लखनवी
  • मुंशी नौबत राय नज़र लखनवी मुंशी नौबत राय नज़र लखनवी
  • मिर्ज़ा हादी रुस्वा मिर्ज़ा हादी रुस्वा
  • साक़िब लखनवी साक़िब लखनवी
  • ज़रीफ़ लखनवी ज़रीफ़ लखनवी
  • नज़्म तबातबाई नज़्म तबातबाई
  • अज़ीज़ लखनवी अज़ीज़ लखनवी
  • नादिर काकोरवी नादिर काकोरवी