Abdul Aziz Khalid's Photo'

अब्दुल अज़ीज़ ख़ालिद

1927 - 2010 | पाकिस्तान

अहम पाकिस्तानी शायर और अनुवादक जिन्होंने विश्वसाहित्य के अनुवाद के साथ ‘गीतांजली’ का उर्दू अनुवाद भी किया

अहम पाकिस्तानी शायर और अनुवादक जिन्होंने विश्वसाहित्य के अनुवाद के साथ ‘गीतांजली’ का उर्दू अनुवाद भी किया

ग़ज़ल 10

नज़्म 1

 

शेर 18

मैं फ़क़त एक ख़्वाब था तेरा

ख़्वाब को कौन याद रखता है

जान का सर्फ़ा हो तो हो लेकिन

सर्फ़ करने से इल्म बढ़ता है

छिलकों के हैं अम्बार मगर मग़्ज़ नदारद

दुनिया में मुसलमाँ तो हैं इस्लाम नहीं है

रुबाई 11

पुस्तकें 23

Barg-e-Khizan

 

1964

Dasht-e-Sham

 

1965

Dukan-e-Sheesha Gar

 

1965

Far Qaleet

 

1964

Farqaleet

 

 

Ghazal Al-Ghazlat

 

1960

Gul-e-Naghma

 

1975

Kaf-e-Dariya

 

1965

Khalid Shakhs-o-Shayar

 

1976

Kilk-e-Mauj

 

1963