Azad Ansari's Photo'

आज़ाद अंसारी

1871 - 1942 | हैदराबाद, भारत

अल्ताफ़ हुसैन हाली के प्रमुख शिष्य

अल्ताफ़ हुसैन हाली के प्रमुख शिष्य

आज़ाद अंसारी

ग़ज़ल 4

 

शेर 9

हम को मिल सका तो फ़क़त इक सुकून-ए-दिल

ज़िंदगी वगरना ज़माने में क्या था

  • शेयर कीजिए

दीदार की तलब के तरीक़ों से बे-ख़बर

दीदार की तलब है तो पहले निगाह माँग

  • शेयर कीजिए

सज़ाएँ तो हर हाल में लाज़मी थीं

ख़ताएँ कर के पशेमानीयाँ हैं

  • शेयर कीजिए

वो काफ़िर-निगाहें ख़ुदा की पनाह

जिधर फिर गईं फ़ैसला हो गया

  • शेयर कीजिए

बंदा-परवर मैं वो बंदा हूँ कि बहर-ए-बंदगी

जिस के आगे सर झुका दूँगा ख़ुदा हो जाएगा

  • शेयर कीजिए

पुस्तकें 2

मअारिफ़-ए-जमील

 

1938

Marif-e-Jameel

 

1938

 

चित्र शायरी 1

हम को न मिल सका तो फ़क़त इक सुकून-ए-दिल ऐ ज़िंदगी वगरना ज़माने में क्या न था

 

संबंधित शायर

  • अल्ताफ़ हुसैन हाली अल्ताफ़ हुसैन हाली गुरु

"हैदराबाद" के और शायर

  • जलील मानिकपूरी जलील मानिकपूरी
  • वली उज़लत वली उज़लत
  • अमीर मीनाई अमीर मीनाई
  • सफ़ी औरंगाबादी सफ़ी औरंगाबादी
  • मख़दूम मुहिउद्दीन मख़दूम मुहिउद्दीन
  • ग़ौस ख़ाह मख़ाह  हैदराबादी ग़ौस ख़ाह मख़ाह हैदराबादी
  • रऊफ़ रहीम रऊफ़ रहीम
  • मुसहफ़ इक़बाल तौसिफ़ी मुसहफ़ इक़बाल तौसिफ़ी
  • शफ़ीक़ फातिमा शेरा शफ़ीक़ फातिमा शेरा
  • ख़ुर्शीद अहमद जामी ख़ुर्शीद अहमद जामी