Deepak Purohit's Photo'

दीपक पुरोहित

1954 | जयपुर, भारत

दीपक पुरोहित

ग़ज़ल 4

 

शेर 21

अच्छा हुआ ज़बान-ए-ख़मोशी तुम पढ़े

शिकवे मिरे वगर्ना रुलाते तुम्हें बहुत

  • शेयर कीजिए

कि है मुख़्तसर दास्ताँ इश्क़ की

गले मिल के कोई गले पड़ गया

  • शेयर कीजिए

था कभी उन की निगाहों में बुलंद अपना मक़ाम

इतनी ऊँचाई से गिर कर भी कोई बचता है

  • शेयर कीजिए

ख़ूब-रू कौन ये आया चमन में आज कि याँ

शर्म से सुर्ख़ हुए जाते हैं ये फूल सभी

  • शेयर कीजिए

यूँ गुफ़्तुगू-ए-उल्फ़त दिलचस्प हम करेंगे

आँखों से तुम कहोगे आँखों से हम सुनेंगे

  • शेयर कीजिए

"जयपुर" के और शायर

  • अखिलेश तिवारी अखिलेश तिवारी
  • दिनेश कुमार द्रौण दिनेश कुमार द्रौण
  • बकुल देव बकुल देव
  • एजाज़ुलहक़ शहाब एजाज़ुलहक़ शहाब
  • आशुतोष तिवारी आशुतोष तिवारी
  • चित्रा भारद्वाज सुमन चित्रा भारद्वाज सुमन
  • आदिल रज़ा मंसूरी आदिल रज़ा मंसूरी
  • भव्य सोनी भव्य सोनी
  • अरविन्द अज़ान अरविन्द अज़ान
  • अफ़ज़ल अली अफ़ज़ल अफ़ज़ल अली अफ़ज़ल