Jazib Quraishi's Photo'

जाज़िब क़ुरैशी

1940 | कराची, पाकिस्तान

ग़ज़ल 21

शेर 9

क्यूँ माँग रहे हो किसी बारिश की दुआएँ

तुम अपने शिकस्ता दर-ओ-दीवार तो देखो

तेरी यादों की चमकती हुई मशअ'ल के सिवा

मेरी आँखों में कोई और उजाला ही नहीं

  • शेयर कीजिए

जब भी आता है वो मेरे ध्यान में

फूल रख जाता है रोशन-दान में

पुस्तकें 4

Shairi Aur Tahzeeb

 

1988

शनासाई

 

1973

Shanasai

 

1984

Sheeshe Ka Darakht

 

1991

 

"कराची" के और शायर

  • ज़ीशान साहिल ज़ीशान साहिल
  • आरज़ू लखनवी आरज़ू लखनवी
  • अनवर शऊर अनवर शऊर
  • सलीम कौसर सलीम कौसर
  • दिलावर फ़िगार दिलावर फ़िगार
  • पीरज़ादा क़ासीम पीरज़ादा क़ासीम
  • क़मर जलालवी क़मर जलालवी
  • उबैदुल्लाह अलीम उबैदुल्लाह अलीम
  • अज़रा अब्बास अज़रा अब्बास
  • सीमाब अकबराबादी सीमाब अकबराबादी