Meer Anees's Photo'

मीर अनीस

1803 - 1874 | लखनऊ, भारत

लखनऊ के अग्रगी क्लासिकी शायरों में विख्यात/मर्सिया के महान शायर

लखनऊ के अग्रगी क्लासिकी शायरों में विख्यात/मर्सिया के महान शायर

उपनाम : 'अनीस'

मूल नाम : मीर बब्बर अली अनीस

निधन : 10 Dec 1874

Relatives : मीर हसन (दादा) , रशीद लखनवी (पोता)

लगा रहा हूँ मज़ामीन-ऐ-नौ के फिर अम्बार

ख़बर करो मेरे ख़िरमन के ख़ोशा-चीनों को

अनीस, मीर बबर अली

(1801/05-1875)

शाइरों के सब से बड़े घराने से संबंध। उनके दादा मीर हसन और पिता मीर ख़लीक़बड़े शाइर थे। फ़ैज़ाबाद में पैदाइश मगर ज़िंदगी लखनऊ में गुज़री। मीर अनीस उर्दू मर्सियेके सबसे बड़े शाइर थे। उनकी ग़ज़ल भी बहुत बाँकी होती है मगर नौजवानी में ग़ज़ल गोई करने के बाद उससे तौबा कर ली। चंद ग़ज़लें बाक़ी बची हैं और ग़ज़ल के बहुत से शेर उनके सलामोंमें शामिल हैं।