Rajendera Krishan's Photo'

राजेन्द्र कृष्ण

1919 - 1988 | मुंबई, भारत

फ़िल्म गीतकार

फ़िल्म गीतकार

ग़ज़ल 11

शेर 9

झटको ज़ुल्फ़ से पानी ये मोती टूट जाएँगे

तुम्हारा कुछ बिगड़ेगा मगर दिल टूट जाएँगे

चारागर की ज़रूरत कुछ दवा की है

दुआ को हाथ उठाओ कि ग़म की रात कटे

इस भरी दुनिया में कोई भी हमारा हुआ

ग़ैर तो ग़ैर हैं अपनों का सहारा हुआ

ई-पुस्तक 1

 

चित्र शायरी 1

किसी की याद में दुनिया को हैं भुलाए हुए ज़माना गुज़रा है अपना ख़याल आए हुए बड़ी अजीब ख़ुशी है ग़म-ए-मोहब्बत भी हँसी लबों पे मगर दिल पे चोट खाए हुए हज़ार पर्दे हों पहरे हों या हों दीवारें रहेंगे मेरी नज़र में तो वो समाए हुए किसी के हुस्न की बस इक किरन ही काफ़ी है ये लोग क्यूँ मिरे आगे हैं शम्अ' लाए हुए

 

वीडियो 13

This video is playing from YouTube

वीडियो का सेक्शन
अन्य वीडियो
उन को ये शिकायत है कि हम कुछ नहीं कहते

लता मंगेशकर

उन को ये शिकायत है कि हम कुछ नहीं कहते

लता मंगेशकर

मिरी दास्ताँ मुझे ही मिरा दिल सुना के रोए

लता मंगेशकर

मोहम्मद रफ़ी

मोहम्मद रफ़ी

यूँ हसरतों के दाग़ मोहब्बत में धो लिए

लता मंगेशकर

यूँ हसरतों के दाग़ मोहब्बत में धो लिए

राधिका चोपड़ा

संबंधित शायर

  • कैफ़ी आज़मी कैफ़ी आज़मी समकालीन
  • हसरत जयपुरी हसरत जयपुरी समकालीन
  • नौशाद अली नौशाद अली समकालीन

"मुंबई" के और शायर

  • शाहिद लतीफ़ शाहिद लतीफ़
  • गुलज़ार गुलज़ार
  • सूर्यभानु गुप्त सूर्यभानु गुप्त
  • अहमद वसी अहमद वसी
  • जतीन्द्र वीर यख़मी ’जयवीर जतीन्द्र वीर यख़मी ’जयवीर
  • अब्दुल्लाह कमाल अब्दुल्लाह कमाल
  • अशअर नजमी अशअर नजमी
  • स्वप्निल तिवारी स्वप्निल तिवारी
  • त्रिपुरारि त्रिपुरारि
  • मुदिता रस्तोगी मुदिता रस्तोगी