Natiq Lakhnavi's Photo'

नातिक़ लखनवी

1878 - 1950 | लखनऊ, भारत

नातिक़ लखनवी

ग़ज़ल 25

शेर 13

कह रहा है शोर-ए-दरिया से समुंदर का सुकूत

जिस का जितना ज़र्फ़ है उतना ही वो ख़ामोश है

  • शेयर कीजिए

शम्अ' तुझ पे रात ये भारी है जिस तरह

मैं ने तमाम उम्र गुज़ारी है इस तरह

  • शेयर कीजिए

मर मर के अगर शाम तो रो रो के सहर की

यूँ ज़िंदगी हम ने तिरी दूरी में बसर की

  • शेयर कीजिए

दिल है किस का जिस में अरमाँ आप का रहता नहीं

फ़र्क़ इतना है कि सब कहते हैं मैं कहता नहीं

  • शेयर कीजिए

दिल रहे या रहे ज़ख़्म भरे या भरे

चारासाज़ों की ख़ुशामद मुझे मंज़ूर नहीं

  • शेयर कीजिए

पुस्तकें 3

Intikhab-e-Kalam Natiq Lucknowi

 

1997

Musafir Damishqi

 

1924

Nazm-e-Urdu

 

1941

 

चित्र शायरी 2

कह रहा है शोर-ए-दरिया से समुंदर का सुकूत जिस का जितना ज़र्फ़ है उतना ही वो ख़ामोश है

ऐ शम्अ' तुझ पे रात ये भारी है जिस तरह मैं ने तमाम उम्र गुज़ारी है इस तरह

 

ऑडियो 6

आँसुओं से ख़ून के अजज़ा बदलते जाएँगे

ऐ शम्मा तुझ पे रात ये भारी है जिस तरह

ख़ून-ए-दिल का जो कुछ अश्कों से पता मिलता है

Recitation

aah ko chahiye ek umr asar hote tak SHAMSUR RAHMAN FARUQI

"लखनऊ" के और शायर

  • मुसहफ़ी ग़ुलाम हमदानी मुसहफ़ी ग़ुलाम हमदानी
  • हैदर अली आतिश हैदर अली आतिश
  • इमदाद अली बहर इमदाद अली बहर
  • इरफ़ान सिद्दीक़ी इरफ़ान सिद्दीक़ी
  • वलीउल्लाह मुहिब वलीउल्लाह मुहिब
  • यगाना चंगेज़ी यगाना चंगेज़ी
  • ख़्वाज़ा मोहम्मद वज़ीर ख़्वाज़ा मोहम्मद वज़ीर
  • सिराज लखनवी सिराज लखनवी
  • अरशद अली ख़ान क़लक़ अरशद अली ख़ान क़लक़
  • रिन्द लखनवी रिन्द लखनवी