Sahir Ludhianvi's Photo'

साहिर लुधियानवी

1921 - 1980 | मुंबई, भारत

अग्रणी प्रगतिशील शायरों में शामिल। मशहूर फ़िल्म गीतकार

ग़ज़ल 54

नज़्म 89

शेर 66

दिल के मुआमले में नतीजे की फ़िक्र क्या

आगे है इश्क़ जुर्म-ओ-सज़ा के मक़ाम से

  • शेयर कीजिए

तुम मेरे लिए अब कोई इल्ज़ाम ढूँडो

चाहा था तुम्हें इक यही इल्ज़ाम बहुत है

a reason to indict me, you need hardly pursue

is it not cause enough I fell in love with you

a reason to indict me, you need hardly pursue

is it not cause enough I fell in love with you

संसार की हर शय का इतना ही फ़साना है

इक धुँद से आना है इक धुँद में जाना है

गीत 16

ई-पुस्तक 27

आओ कि कोई ख़्वाब बुनें

 

1973

बच्चे मन के सच्चे

 

1998

Gata Jaye Banjara

 

 

Gata Jaye Banjara

 

1964

कलाम-ए-साहिर लुधियानवी

 

2000

Kulliyat-e-Sahir

 

1995

Kulliyat-e-Sahir

 

2003

Main Sahir Hoon

 

2015

Muntakhab Nazmen

 

1988

परछाइयाँ

 

1955

चित्र शायरी 22

वीडियो 57

This video is playing from YouTube

सेक्शन से वीडियो
अन्य वीडियो

जगजीत सिंह

ishq ki garmi-e-jazbaat kise pesh karoon

मोहम्मद रफ़ी

Jurm-E-Ulfat Pe Hamen Log Saza Dete Hain

लता मंगेशकर

Rang aur noor ki baaraat kise pesh karun

मोहम्मद रफ़ी

Ye Raat Ye Chandini Phir Kaha

सलमान अल्वी

अपना दिल पेश करूँ अपनी वफ़ा पेश करूँ

भारती विश्वनाथन

अब वो करम करें कि सितम मैं नशे में हूँ

मोहम्मद रफ़ी

आज की रात मुरादों की बरात आई है

मोहम्मद रफ़ी

इतनी हसीन इतनी जवाँ रात क्या करें

मोहम्मद रफ़ी

ऐ शरीफ़ इंसानो

ख़ून अपना हो या पराया हो ज़ुल्फ़िक़ार अली बुख़ारी

ऐ शरीफ़ इंसानो

ख़ून अपना हो या पराया हो तौसीफ़ अख़्तर

कभी कभी

कभी कभी मिरे दिल में ख़याल आता है मुकेश

कभी कभी

कभी कभी मिरे दिल में ख़याल आता है समीर खेरा

कभी ख़ुद पे कभी हालात पे रोना आया

मोहम्मद रफ़ी

ख़ुद-कुशी से पहले

उफ़ ये बेदर्द सियाही ये हवा के झोंके Urdu Studio

ख़ूबसूरत मोड़

चलो इक बार फिर से अजनबी बन जाएँ हम दोनों महेन्द्र कपूर

ग़ैरों पे करम अपनों पे सितम

लता मंगेशकर

चेहरे पे ख़ुशी छा जाती है आँखों में सुरूर आ जाता है

आशा भोसले

जुर्म-ए-उल्फ़त पे हमें लोग सज़ा देते हैं

राधिका चोपड़ा

ज़िंदगी-भर नहीं भूलेगी वो बरसात की रात

मोहम्मद रफ़ी

जीवन के सफ़र में राही

किशोर कुमार

जो बात तुझ में है तिरी तस्वीर में नहीं

मोहम्मद रफ़ी

तंग आ चुके हैं कशमकश-ए-ज़िंदगी से हम

आशा भोसले

तंग आ चुके हैं कशमकश-ए-ज़िंदगी से हम

मोहम्मद रफ़ी

ताज-महल

ताज तेरे लिए इक मज़हर-ए-उल्फ़त ही सही मोहम्मद रफ़ी

तिरी दुनिया में जीने से तो बेहतर है कि मर जाएँ

हेमंत कुमार

देखा है ज़िंदगी को कुछ इतना क़रीब से

किशोर कुमार

दूर रह कर न करो बात क़रीब आ जाओ

मोहम्मद रफ़ी

नज़र से दिल में समाने वाले मिरी मोहब्बत तिरे लिए है

आशा भोसले

नहीं किया तो कर के देख

मुकेश

पर्बतों के पेड़ों पर शाम का बसेरा है

मोहम्मद रफ़ी

बुझा दिए हैं ख़ुद अपने हाथों मोहब्बतों के दिए जला के

सुमन कल्याणपुर

बरबाद-ए-मोहब्बत की दुआ साथ लिए जा

मोहम्मद रफ़ी

बरबाद-ए-मोहब्बत की दुआ साथ लिए जा

मोहम्मद रफ़ी

भूले से मोहब्बत कर बैठा, नादाँ था बेचारा, दिल ही तो है

मुकेश

भूल सकता है भला कौन ये प्यारी आँखें

महेन्द्र कपूर

मैं जब भी अकेली होती हूँ तुम चुपके से आ जाते हो

आशा भोसले

मैं जागूँ सारी रैन सजन तुम सो जाओ

लता मंगेशकर

मैं ज़िंदगी का साथ निभाता चला गया

मोहम्मद रफ़ी

मुझे गले से लगा लो बहुत उदास हूँ मैं

लता मंगेशकर

मतलब निकल गया है तो पहचानते नहीं

मोहम्मद रफ़ी

मता-ए-ग़ैर

मेरे ख़्वाबों के झरोकों को सजाने वाली Urdu Studio

मेरी तक़दीर में जलना है तो जल जाऊँगा

अनूप जलोटा

मिरे दिल में आज क्या है तू कहे तो मैं बता दूँ

किशोर कुमार

मिलती है ज़िंदगी में मोहब्बत कभी कभी

लता मंगेशकर

मोहब्बत तर्क की मैं ने गरेबाँ सी लिया मैं ने

तलअत महमूद

मोहब्बत तर्क की मैं ने गरेबाँ सी लिया मैं ने

तलअत महमूद

ये ज़ुल्फ़ अगर खुल के बिखर जाए तो अच्छा

मोहम्मद रफ़ी

ये दुनिया दो-रंगी है

मोहम्मद रफ़ी

ये वादियाँ ये फ़ज़ाएँ बुला रही हैं तुम्हें

मोहम्मद रफ़ी

सब में शामिल हो मगर सब से जुदा लगती हो

मोहम्मद रफ़ी

संसार की हर शय का इतना ही फ़साना है

महेंदर कपूर

हर तरह के जज़्बात का एलान हैं आँखें

मोहम्मद रफ़ी

हवस-नसीब नज़र को कहीं क़रार नहीं

गुलशन आरा सैयद

तिरी दुनिया में जीने से तो बेहतर है कि मर जाएँ

जगजीत सिंह

ऑडियो 11

कभी कभी

चकले

तेरी आवाज़

Recitation

aah ko chahiye ek umr asar hote tak SHAMSUR RAHMAN FARUQI

संबंधित शायर

  • असरार-उल-हक़ मजाज़ असरार-उल-हक़ मजाज़
  • अहमद हमदानी अहमद हमदानी
  • सरशार सिद्दीक़ी सरशार सिद्दीक़ी
  • अहमद मुश्ताक़ अहमद मुश्ताक़
  • फ़ैज़ अहमद फ़ैज़ फ़ैज़ अहमद फ़ैज़
  • सहर अंसारी सहर अंसारी
  • नसीर तुराबी नसीर तुराबी
  • अनवर शऊर अनवर शऊर
  • बशीर बद्र बशीर बद्र
  • जाँ निसार अख़्तर जाँ निसार अख़्तर

"मुंबई" के और शायर

  • राजिंदर सिंह बेदी राजिंदर सिंह बेदी
  • ज़ाकिर ख़ान ज़ाकिर ज़ाकिर ख़ान ज़ाकिर
  • अख़्तर आज़ाद अख़्तर आज़ाद
  • कृष्ण चंदर कृष्ण चंदर
  • राजा मेहदी अली ख़ाँ राजा मेहदी अली ख़ाँ
  • अज़हर हाश्मी अज़हर हाश्मी
  • हसन कमाल हसन कमाल
  • ज़हरा क़रार ज़हरा क़रार
  • रफ़ीआ शबनम आबिदी रफ़ीआ शबनम आबिदी
  • निशांत श्रीवास्तव नायाब निशांत श्रीवास्तव नायाब

Added to your favorites

Removed from your favorites